Select Language

Check Application Status
en

Resource Zone

शेड्यूलिंग का समाधान

Gina Pellegrini

Rate 1 Rate 2 Rate 3 Rate 4 Rate 5 0 Ratings Choose a rating
Please Login or Become A Member for additional features

Note: Any content shared is only viewable to MDRT members.

संभावित क्लाइंट्स आना जारी रखने वाली कॉल्स के लिए एक प्रक्रिया बनाएं।

बिजनेस में वास्तव में जरूरी पहली गतिविधि क्या है? एक शेड्यूलिंग प्रक्रिया! चाहें आप हों या टीम का एक मेंबर, आपके कैलेंडर को भरा रखने के लिए किसी को प्रति दिन कॉल्स करने की जरूरत है। जब आपके पास आपकी इच्छा के अनुसार अप्वाइंटमेंट्स की संख्या और प्रकार है, आपका बिजनेस बढ़ेगा।

इससे फर्क नहीं पड़ता कि अगर आप प्रति सप्ताह तीन या 23 अप्वाइंटमेंट्स चाहते हैं; एक नियमित सिस्टम से ऐसा होगा। पहला कदम? सभी शेड्यूलिंग की जिम्मेदारी दें!

एडवाइजर को संभावित क्लाइंट्स और क्लाइंट्स के सामने होने की जरूरत है – उन्हें शेड्यूल करने की कोशिश करने की नहीं। आपके शेड्यूलर प्रति दिन कॉल्स कर सकते हैं, किसी व्यक्ति के वापस कॉल करने पर उपलब्ध रहें, व्यक्ति से संपर्क होने तक उसे कॉल करना जारी रखें और अपने कैलेंडर को अनुरूप रखें।

मैं जानती हूं कि आप क्या सोच सकते हैं: शेड्यूलर आपके जितना प्रभावी नहीं होगा। हालांकि, एक शेड्यूलर के तौर पर प्रमाणित अनुभव, और अब एक ट्रेनर के तौर पर, मुझे सच इसका विपरीत मिला है।

फोन पर नियमित रहने से, शेड्यूलर रेफरल्स, संभावित क्लाइंट्स और क्लाइंट्स के साथ एक संबंध बना सकता है और उसे एक सेल्सपर्सन के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए, भले ही वे एक बहुत महत्वपूर्ण चीज बेच रहे हैं – एक अप्वाइंटमेंट! क्या डॉक्टर या डेंटिस्ट आपकी अप्वाइंटमेंट तय करने के लिए आपको कॉल करते हैं? बिल्कुल नहीं। वे अपने मरीजों के सामने रहने पर ध्यान देते हैं, ऐसे ही एक एडवाइजर को अपने क्लाइंट्स के सामने होने की जरूरत है।

अगर शेड्यूलर्स प्रति दिन औसत लगभग 23 कॉल करते हैं, वे प्रति सप्ताह 20 अप्वाइंटमेंट तय करेंगे।

एक शेड्यूलर के तौर पर 17 वर्षों तक, मैंने बिजनेस पर शेड्यूलिंग के महत्व और प्रभाव को सीखा है। जब मैंने कॉल्स करने की शुरुआत की थी, मैं केवल वर्तमान क्लाइंट्स को कॉल करती थी। कुछ ही समय में मैं सभी अप्वाइंटमेंट्स तय करने लगी थीः क्लाइंट्स, रेफरल्स और संभावित क्लाइंट्स। यह समझदारी होगी अगर फोन से शेड्यूलर जुड़े हैं, आप नहीं।

एक व्यस्थित शेड्यूलिंग समाधान तैयार करने के लिए कुछ आइडिया ये हैं:

क्लाइंट बेस पर कार्य करने के लिए एक नियमित सिस्टम रखें।

चुनिंदा कार्य को समाप्त करने के लिए, क्लाइंट बेस पर कार्य करने का एक नियमित सिस्टम महत्वपूर्ण है। एक आदर्श स्थिति में, संभावित क्लाइंट्स और क्लाइंट्स नियमित तौर पर सामने आएंगे। ग्रेनम वन कार्ड सिस्टम के साथ, सिस्टम में प्रत्येक व्यक्ति को एक वर्ष में कम से कम दो बार कॉल किया जाता हैः एक बार उनके जन्मदिन पर और दोबारा छह महीने बाद। इससे संभावित क्लाइंट्स कमियों के कारण निकल जाने को रोका जाता है और क्लाइंट्स के साथ एक गहरा कनेक्शन बनता है। लिस्ट में प्रत्येक व्यक्ति, क्लाइंट या संभावित क्लाइंट, को एक अप्वाइंटमेंट या संपर्क के लिए एक कॉल की जाएगी।

शेड्यूलिंग पहली प्राथमिकता बन जाती है।

कैलेंडर को अनुरूप रखने के लिए, प्रति दिन कॉल्स करने की जरूरत है, सुबह पहली चीज। प्रति दिन कॉल्स के साथ, शेड्यूलर को एक दिन में लगभग एक घंटे की ही जरूरत होगी। हां, क्लाइंट सर्विस, बीच में रुकना, इनकमिंग कॉल्स का उत्तर देना, आदि महत्वपूर्ण हैं। हालांकि, अगर कॉल्स नहीं की जाती, सभी अन्य कार्य नहीं होगा।

हम सभी उन कार्यों को टालते हैं जिन्हें हम करना पसंद नहीं करते, या हम अस्वीकार्यता का सामना करना पसंद नहीं करते। सफल शेड्यूलिंग के लिए, हमें अपनी सोच बदलने की जरूरत है। शेड्यूलर के प्रति दिन सुबह 9 बजे फोन पर होने से परिणाम बढ़ जाएंगे। प्रत्येक कॉल को एक संबंध बनाने के लिए एक नई चुनौती के तौर पर देखें और आपके रास्ते में आने वाली आपत्तियों के साथ आसानी से निपटें।

वापस की जाने वाली कॉल्स बढ़ाएं

शेड्यूलर्स को किसी व्यक्ति से वापस कॉल करवाने के लिए एक छोटा मैसेज छोड़ना चाहिए। अगर वे वापस कॉल नहीं करते, आपात स्थिति की एक समझ बनाने के लिए तीन दिन बाद दोबारा कॉल करें, और हार न मानें। मैं प्रत्येक तीन दिनों में कॉल करने, और तीन मैसेज के बाद, एक ईमेल या एक टेक्स्ट भेजने की प्रक्रिया पर मजबूत विश्वास रखती हूं। दोबारा, लोगों के साथ कनेक्ट करने की एक निरंतर प्रक्रिया कॉल करने के लिए नामों की लिस्ट बनाने जितनी ही महत्वपूर्ण है।

समीक्षा की जाने वाली तीन चीजें हैं: प्रति सप्ताह डायल किए गए नंबरों की संख्या, संपर्क होने का प्रतिशत और संपर्क होने का अप्वाइंटमेंट्स में बदलना। आमतौर पर संपर्क होने का औसत 35% या संपर्क होने के अप्वाइंटमेंट्स में बदलने का 50% या अधिक है।

जवाबदेही लें

शेड्यूलिंग बहुत महत्वपूर्ण है, इस कारण से यह ऑफिस में जवाबदेही के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में एक बन जाता है। और मेरा विश्वास करें, फोन करने की जवाबदेही के समान परिणाम होंगे। शेड्यूलर्स को अपने डायल किए गए नंबरों की प्रति दिन निगरानी करनी चाहिएः कॉल्स, संपर्क होना और अप्वाइंटमेंट्स। कॉल्स करने में अधिक समय नहीं लगता।

एक उदाहरण के तौर पर, अगर शेड्यूलर्स प्रति दिन लगभग 23 कॉल्स करते हैं, वे प्रति सप्ताह 20 अप्वाइंटमेंट्स तय करेंगे, किसी प्रकार की कोल्ड कॉल्स को छोड़कर। उन्हें बिजनेस पर पड़ने वाला शेड्यूलिंग का प्रभाव भी जानने की जरूरत है। ऐसा कई बार हुआ है कि जब मैंने एक शेड्यूलर को कहते सुना है, “मेरे पास कॉल्स करने के लिए समय नहीं है।” मेरी प्रतिक्रिया होती है, “मुझे नहीं पता कि आपको इसकी जानकारी है या नहीं, लेकिन अप्वाइंटमेंट्स से बिजनेस बढ़ता है। अगर कैलेंडर खाली है, आपके पास कोई और चीज करने को नहीं होगी।“

निगरानी करते हुए, आप परिणाम प्राप्त करने के लिए उपयुक्त बदलाव कर सकते हैं। समीक्षा करने के लिए तीन चीजें प्रति सप्ताह डायल किए गए नंबरों की संख्या, संपर्क होने का प्रतिशत और संपर्क होने का अप्वाइंटमेंट्स में बदलना है।

आमतौर पर संपर्क होने का औसत 35% या संपर्क होने के अप्वाइंटमेंट्स में बदलने का 50% या अधिक है। अगर संपर्क होने की संख्या कम है, शेड्यूलर्स को उनके अधिक लोगोंसे संपर्क करने तक डायल किए जाने वाले नंबरों की संख्या बढ़ाने की जरूरत हो सकती है। और अगर अप्वाइंटमेंट का प्रतिशत कम है, उन्हें आपत्तियों से सही तरीके से निपटने और अप्वाइंटमेंट प्राप्त करने के लिए शायद अधिक ट्रेनिंग की जरूरत होगी।

कई वर्ष पहले, जब मैंने अपने एजेंट के साथ एक शेड्यूलर के तौर पर शुरुआत की थी, उनके पास केवल 1 1/2 वर्ष के लिए बिजनेस था। पांच वर्षों के अंदर, वह हमारी एजेंसी में तेजी से एक टॉप प्रोड्यूसर बन गए थे क्योंकि उन्होंने शेड्यूलिंग छोड़ दी थी और मेरी क्षमताओं पर विश्वास किया था। तो, शेड्यूलिंग को छोड़ दें जिससे आप लोगों के सामने रह सकें, नए बिजनेस पक्के कर सकें और नए रेफरल के लिए कह सकें।

यह बिजनेस का बढ़ना है!

कॉल्स करते समय अपनाई जाने वाली महत्वपूर्ण रणनीतियां

मैसेज छोड़ते हुए, संक्षिप्त रहें। लक्ष्य व्यक्ति को आपको वापस कॉल करवाने का है।

“हेलो, ______________ , ये जॉन जोन्स के साथ जीना है। कृपया मुझे इस पर कॉल करें _______।“

“हेलो, ___________, ये जीना है; वह हमारे एक क्लाइंट हैं और उन्होंने हमें कनेक्ट करने का सुझाव दिया है। मैं जॉन जोन्स के साथ इस पर हूं ________।“

एक आपात स्थिति की समझ बनाने के लिए प्रत्येक तीन दिनों में कॉल करें, मैसेज में बदलाव करते हुए।

“हेलो, _________, ये दोबारा जीना है। मैं जानती हूं आप बहुत व्यस्त हैं। हालांकि, मुझे आपके समय में से कुछ मिनट चाहिए। कृपया मुझे इस पर कॉल करें _______।“

डायल किए गए नंबरों, संपर्कों और अप्वाइंटमेंट्स की निगरानी करें।

आपत्तियों से निपटते हुए, संभावित क्लाइंट्स और क्लाइंट्स को सहानुभूति के शब्दों के साथ यह बताएं कि आपत्ति को समाप्त कर उनकी बात सुनी गई हैः “हमें नहीं पता था।” “मैं समझ गया।” “मैं इसकी प्रशंसा कर सकता हूं।”

खुले प्रश्न पूछें: “आपका शेड्यूल किस प्रकार का है?” “आपके लिए कौन सा समय अच्छा होगा?” “दिन का कौन सा समय आपके लिए सर्वश्रेष्ठ है?”

Gina Pellegrini लीडरशिप ट्रेनिंग, स्टाफ डिवेलपमेंट और प्रैक्टिस मैनेजमेंट में विशेषज्ञता रखने वाली मिनीपोलिस की फर्म, पेलरग्रिनी टीम कंसल्टिंग की मालिक हैं। उनकी वेबसाइट के जरिए उनसे यहां संपर्क करें pellegriniteam.com

 

{{GetTotalComments()}} Comments

Please Login or Become A Member to add comments