Select Language

Check Application Status
en

Resource Zone

अपनी कॉर्पोरेट संस्कृति को बदलने के 8 चरण

Magi Graziano

Rate 1 Rate 2 Rate 3 Rate 4 Rate 5 0 Ratings Choose a rating
Please Login or Become A Member for additional features

Note: Any content shared is only viewable to MDRT members.

एक जुड़ाव वाली टीम का निर्माण लीडर से शुरू होता है।

आपके कर्मचारी कितना जुड़ाव महसूस करते हैं यह उनको बेहतरीन लाभ पैकेज, प्रतिस्पर्धी वेतन, लचीला कार्य-शेड्यूल और चुनौतीपूर्ण प्रोजेक्ट्स की पेशकश से भी और अधिक है। आपकी कंपनी की संस्कृति वास्तव में आपका प्रतिस्पर्धात्मक लाभ है।

अधिकांश लीडर एक सहयोगात्मक और अभिनव कार्यस्थल चाहते हैं, लेकिन इसे पूरा करना मुश्किल हो सकता है। बेहतरीन कार्यस्थल के निर्माण के लिए निम्नलिखित आठ चरण आजमाई हुईं विश्वसनीय रणनीतियां हैं।

1. यह समझें कि संगठन एक “मानव प्रणाली है जो विभिन्न दृष्टिकोणों, मान्यताओं और प्राथमिकताओं वाले अलग-अलग लोगों से निर्मित है। एक रचनात्मक कॉर्पोरेट संस्कृति में, व्यवसाय समग्र रूप में कर्मचारियों को व्यक्तिगत एजेंडा और अहम् की सीमा के बाहर एक-दूसरे के साथ गतिविधियों में भाग लेने के लिए सशक्त बनाता है। यह लोगों को समूह से जुड़े मामलों में सहयोग और योगदान देने के लिए प्रेरित करता है। जब लीडर इस ह्यूमन ऑपरेटिंग सिस्टम को बेहतर ढंग से समझते हैं, तो वे अग्रसक्रिय रूप से हस्तक्षेप कर सकते हैं और लोगों के आगे बढ़ने के लिए अनुभव उत्पन्न कर सकते हैं।

2. वार्तालाप शुरू करें। अपने कर्मचारियों से मिलें और उन्हें बताएं कि आप उनसे बात करना चाहते हैं, या उन्हें कार्यस्थल की संस्कृति के बारे में सवाल पूछने वाला सर्वेक्षण भेजें। अपनी उत्सुकता के पीछे का उद्देश्य बताएं। अपनी पूछताछ प्रक्रिया को आगे बढ़ाने से पूर्व, खुद से पूछें कि आप वास्तव में क्या सीखना चाहते हैं और आप जानकारी का क्या करेंगे। जब आप लोगों से बात करते हैं और सर्वेक्षण परिणामों की समीक्षा करते हैं, तो अपने सबसे जिज्ञासु, गैर-आलोचनात्मक, गैर-प्रतिक्रियात्मक व्यक्तित्व को अपनाएं। अपनी बातचीत के दौरान तटस्थ क्षेत्र में रहने से आप पैटर्न को समझ और व्यवस्थित संगठनात्मक थीम्स को पहचान सकते हैं।

3. वास्तविक रूप लें। किसी भी सकारात्मक बदलाव के प्रयास में पहला चरण वास्तविक होना है, इस बात को स्वीकारना कि किस चीज़ में बदलाव होना चाहिए और इस बदलाव के लंबे समय तक रहने के लिए किस चीज़ के होने की ज़रूरत है। डेटा-संग्रह प्रक्रिया (साक्षात्कार, फ़ोकस समूह, सर्वेक्षण) में कवर नहीं किये गए क्षेत्रों की एक सूची बनाएं। उच्चतम प्रभाव वाले क्षेत्रों को प्राथमिकता दें - वे जिनमें यदि सुधार किया जाता है, तो समय, धन और प्रयास पर सबसे अधिक लाभ देंगे। फिर अंतर्निहित व्यवहार और संगठनात्मक प्रक्रियाओं को कनेक्ट करें जो आपके कार्यबल के बीच समग्र प्रदर्शन, सहयोग और नवाचार को बाधित करते हैं। जब आप यह समझते हैं कि क्या काम नहीं कर रहा है, तो इस कार्य करने की अक्षमता के प्रभाव को आपको सक्रिय करने दें।

4. प्रभाव की जिम्मेदारी लें। सबसे वरिष्ठ एग्जीक्यूटिव संगठन को चलाने वाला सबसे अहम् व्यक्ति होता है। वे तय करते हैं कि किस तरह के व्यवहार को बर्दाश्त किया जाए और लोग एक-दूसरे के साथ कैसा व्यवहार करें। आत्मनिरीक्षण और आत्म-जागरूकता आपको संगठन में वास्तव में क्या चल रहा है, इस बारे में अपने प्रति ईमानदार बनने देता है। यदि आप स्व-निर्णय और रक्षात्मकता को छोड़ने में सक्षम हैं, तो आप खुद को कार्य करने की अक्षमता के स्रोत के रूप में अधिक स्पष्टता से देख सकते हैं। यह दोष को स्वीकार करने या दोषी महसूस करने के बारे में नहीं है; यह ये देखने के बारे में है कि एक लीडर के रूप में आप कैसे टोन सेट करते हैं और कार्यस्थल में रचनात्मक या हानिकरक व्यवहार के लिए जगह बनाते हैं।

5. एक प्रेरणादायक दृष्टि बनाएं। मिशन स्टेटमेंट कर्मचारियों की यह समझने में सहायता करता है कि सामूहिक लक्ष्य को पूरा करने के लिए एक-दूसरे के साथ कैसे तालमेल बैठाना है। जमीनी, प्रेरक मिशन की अनुपस्थिति में, लोग स्वाभाविक रूप से अपने व्यक्तिगत अनुभव और व्यक्तिगत लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करते हैं। यह पूरे संगठन में एक साइलो मानसिकता और अनावश्यक प्रतिस्पर्धा पैदा करता है।

आपके कार्यबल के प्रत्येक व्यक्ति के पास अनूठा दृष्टिकोण और सुनने की शक्ति है।

6. दूसरों को शामिल करें। अपने मिशन और दृष्टि के बारे में स्पष्टता हासिल करने के बाद, कार्यबल तक संदेश पहुँचाना आवश्यक है। यह महसूस करें कि आपके कार्यबल के प्रत्येक व्यक्ति के पास अनूठा दृष्टिकोण और सुनने की शक्ति है, और अपने संदेश को उसी के अनुसार लक्षित करें।

7. रोड मैप डिज़ाइन करके उसका पालन करें। अपने सैनिकों को प्रेरित करने और उनसे उज्ज्वल भविष्य का वादा करने के बाद, विशिष्ट कार्य योजना तैयार करने का समय है। एक सांस्कृतिक संरेखण रोड मैप में वांछित परिणाम, पहल, कार्यक्रम, प्रशिक्षण, परियोजनाएं और समय सीमाएं शामिल होती हैं।

रचनात्मक कॉर्पोरेट संस्कृति को आकार देने में शामिल प्रत्येक व्यक्ति को अपनी विशिष्ट भूमिका, सामान्य जिम्मेदारियों के अलावा उससे कितने प्रयास अपेक्षित हैं, और वांछित संगठनात्मक परिणामों को समझने की ज़रूरत है। पहले, दूसरे और तीसरे नंबर पर आने वाले कार्य, साथ ही व्यक्तिगत वस्तुओं और समग्र पहलों को ट्रैक पर रखने के लिए आखिरकार कौन ज़िम्मेदार है, के लिए योजना तैयार करना आगे बढ़ने के लिए आवश्यक है। नियमित रूप से बैठक करना, प्रगति पर नज़र रखना और परिणाम प्रकाशित करना आगे बढ़ने को सशक्त करेगा।

8. जो मायने रखता है उसे मापें। अब जब आप जानते हैं कि क्यों, क्या, कैसे और कौन, तो आपके द्वारा किए जा रहे बदलावों के लाभों को मापना महत्वपूर्ण है। मुख्य परिणाम क्षेत्रों को जोड़ने और उन्हें ट्रैक करने से यह पता चलता है कि क्या काम कर रहा है और क्या नहीं, किसे पिवट या पुन: संरेखित करने की ज़रूरत है और किसे रोकने की ज़रूरत है। ऊपर से नीचे तक सिस्टम की जवाबदेही के बिना आपका संगठन फलेगा-फूलेगा नहीं। जवाबदेही और पारदर्शिता के माध्यम से, लोग अपने प्रभाव, टीम कैसा काम कर रही है और कैसे सांस्कृतिक बदलाव संगठन की प्रभावकारिता को बढ़ा रहे हैं, को देख पाते हैं।

मैगी ग्रैजियानो एक वक्ता, लेखक और कीनएलाइनमेंट के लिए प्रमुख प्रचारक हैं, जो कि एक ग्लोबल पीपल ऑप्टिमाइजेशन कंसल्टेंसी फर्म है।
संपर्क करें: मैगी ग्रैजियानो keenalignment.com

 

{{GetTotalComments()}} Comments

Please Login or Become A Member to add comments