Select Language

Check Application Status
en

Resource Zone

प्रेरित जीवन जीने के 8 तरीके

Liz DeCarlo

Rate 1 Rate 2 Rate 3 Rate 4 Rate 5 0 Ratings Choose a rating
Please Login or Become A Member for additional features

Note: Any content shared is only viewable to MDRT members.

दबाव में काम करें, प्रभाव छोड़ें और अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के तरीके सीखें।
Top of the Table photos: Brian Powers How to make an impact

प्रभाव कैसे छोड़े

खुद से पूछें, “आप आज कितने महान बनना चाहते हैं?” और फिर बुनियादी चीज़ों को दूसरों से बेहतर करें। इस तरह आप ऐसा प्रभाव छोड़ पाते हैं, जो किसी भी और चीज़ से ज्यादा देर तक रहता है।

  1. सुनिश्चित करें कि आपकी सेवा आपके अहम से बड़ी हो। आप कैसे किसी पर प्रभाव छोड़ सकते हैं, जब ये केवल आपके बारे में हो?
  2. आप आज किस तरह जीते हैं, वह कल आने वाली आपकी विरासत को निर्धारित करेगा। कल्पना कीजिए कि आपकी विरासत कैसी होनी चाहिए।
  3. लक्ष्य फैलने और बढ़ने का है। प्रभाव छोड़ें, केवल छाप नहीं।

— रिक रिग्सबी, प्रेरक वक्ता और रिक रिग्सबी संचार के अध्यक्ष

खुशहाली उपयोगी जीवन का फल है।

— Chris Helder, business communication expert

Gifting for clients and prospects

क्लाइंट और संभावित लोगों को गिफ्ट देने से सबसे अधिक लाभ उठाएं

जॉन रुहलिन ने अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए गिफ्ट देकर अपना करियर बनाया है। उन्होंने सही समय पर सही व्यक्ति को सही गिफ्ट देने की अपनी रुचि को एक रणनीति में बदल दिया है, जिसे वो “गिफ्टोलॉजी” कहते हैं।

रुहलिन के लेखक “गिफ्टोलॉजी: अनावश्यक चीज़ों को हटाने, रेफरल बढ़ाने और क्लाइंट बनाये रखने में मजबूती लाने के लिए गिफ्ट इस्तेमाल करने की कला और विज्ञान”, अपने गिफ्टोलॉजी कार्यक्रमों के मुख्य घटकों को साझा किया।

  1. निजीकृत करना। वस्तु पर व्यक्ति या उसके पति/पत्नी या बच्चों के नाम का इस्तेमाल करना। “यह उस चीज़ के प्रति नजरिये को बिल्कुल बदल देता है।”
  2. करीबी लोग। “हमारे बजट का अस्सी प्रतिशत किसी एग्जीक्यूटिव को समर्थन देने वाले लोगों, उनके पति/पत्नी, बच्चों या पालतू पशुओं के लिए गिफ्ट लेने में खर्च हो जाता है। मैंने डील केवल इसीलिए प्राप्त की क्योंकि किसी व्यक्ति की पत्नी या सहायक ने उसे समझाया। निर्णय लेने वाले के आसपास रहने वाले लोगों को याद रखना एक ज़रूरी घटक है।”
  3. समय। यदि आप ऐसे समय भेंट देते हैं, जब वो अपेक्षित हो, जैसे कि रेफरल के बाद या छुट्टियों के समय, तो वह केवल एक लेनदेन होता है। रुहलिन ने कहा, गिफ्ट भेंजे “सिर्फ इसलिए”। “मैं चाहता हूं कि वो पूरी तरह से आश्चर्यचकित और खुश हो जाएं। यदि मैं हर किसी की तरह वही प्लेबुक करूं, तो वह केवल शोर बनकर रह जाएगा।”
  4. अधिकांश बनाम न्यूनतम। एक ऐसा स्थान चुनें, जहां लोगों का काफी सस्ते में काम चल जाता है और वो दिल खोलकर खर्च करते हैं। यह सोचें कि आप कम से कम की जगह ज्यादा से ज्यादा क्या कर सकते हैं।
  5. उन्हें वास्तव में क्या चाहिए। गिफ्ट प्राप्तकर्ता के बारे में होता है, उन्हें क्या पसंद है, और उन्हें किस चीज़ की ज़रूरत हो सकती है। रुहलिन ने कहा, “इरादतन और केंद्रित बनें।” “इसे सही भावना और सही मानसिकता के साथ करें।”
Performing well in high-pressure situations

अत्यधिक दबाव वाली परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करना

दबाव में ठीक से काम न कर पाने के पीछे दिमागी विज्ञान के विशेषज्ञ सियन बेलॉक ने कहा कि दबाव में ठीक से काम न कर पाना इसलिए होता है क्योंकि हम जो कर रहे हैं उसकी बारीकियों पर कुछ ज्यादा ही ध्यान देते हैं और जिन चीज़ों को अपने आप होना चाहिए उन्हें नियंत्रित करने का प्रयास करते हैं।

हम चिंता करने लगते हैं और बार-बार तनावपूर्ण घटना के बारे में विचार करते हैं। जब आपका दिमाग इस घबराहट के चक्र को शुरू कर देता है तब सबसे अच्छा काम जो आप कर सकते हैं वो है वहां से चले जाना और कुछ देर बाद लौटना।

बेलॉक ने कहा, “ब्रेक लेना हमें समस्याओं के बारे में एक अप्रत्यक्ष रूप से सोचने देता है और समस्या के हर आयाम को देखने देता है।” पर्याप्त नींद लेना भी ज़रूरी है, क्योंकि नींद में हमारा दिमाग नए कनेक्शन और नए विचार उत्पन्न करता है।

अत्यंत तनावपूर्ण स्थितियों में बेहतर प्रदर्शन के लिए बेलॉक निम्न की अनुशंसा करते हैं:

  • सहयोगी लोगों की एक टीम बनाएं। आपकी टीम में केवल सबसे होशियार लोग ही नहीं बल्कि ऐसे लोग होने चाहिए, जो अलग-अलग हों और एक दूसरे को पूरा करते हों। पीछे हटकर अपने किसी टीम के सदस्य से बात करने से विचारात्मक ढंग से सोचने की आपकी शक्ति जागृत हो सकती है।
  • दबाव के लिए सही तरीके से तैयार हों। जिन परिस्थितियों में आपको काम करना है, उसकी विषय वस्तु को समझें। दर्शकों के साथ इसे देखें और फीडबैक प्राप्त करें या अपने आप को वीडियो टेप करें।
  • अपनी मानसिकता बदलें। परिस्थिति के बाद, जो हुआ उसे गैर-भावुक तरीके से देखें। आगे बढ़ते हुए ऐसी कौनसी एक चीज़ है जिसे आप बदल सकते हैं?
  • पीछे हटें और प्रकृति में रहें। हमारा ध्यान समय के साथ कम होता है। अपने आप को आराम करने और फिर से ऊर्जावान होने के लिए समय दें। यदि आप बाहर नहीं जा सकते, तो केवल खिड़की से बाहर देखना या अपने कंप्यूटर पर प्रकृति के चित्र देखना सहायक हो सकता है।
Visualizing the path to success

सफलता के मार्गों की कल्पना करना

मैल्कम चार्ल्स बैक्सटर ने कहा, हम सभी को नए, बेस्ट-फिट क्लाइंट की ज़रूरत होती है। “प्रत्येक दिन एक बेस्ट-फिट क्लाइंट के हम तक पहुंचने का एक अवसर है। लेकिन वो नहीं आ रहे, इसलिए हम कहते हैं कि यह अर्थव्यवस्था या टैक्स के कारण है। सच ये है कि हम उस इच्छा के बारे में नहीं सोच रहे।”

वह सलाह देते हैं कि जो हमारी वास्तविक इच्छा है हम उसके लिए ध्यान लगाएं और अपने मस्तिष्क को उस पर केंदित करें। हर्टफोर्डशायर, इंग्लैंड के MDRT के 15 वर्षों से सदस्य बैक्सटर ने कहा, “मैं दिन की कल्पना करता हूं और वहां तब तक रहता हूं जब तक मुझे प्रत्यक्ष परिणाम महसूस न हो।”

बैक्सटर ने कहा, हमें आगे बढ़ने के लिए नकारात्मक चीज़ों का सामना करना पड़ता है, इसलिए भय के विचारों को शक्तिशाली स्वीकारोक्ति से बदल दें। “जब हम केंद्रित ध्यान का इस्तेमाल करते हैं, हम इसके लिए धन्यवाद कह सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं। हमारे दिमाग में सही चीज़ आती है।”

Finding wisdom

विवेक खोजना

सोल हिक्स ने कहा, “कोई भी अपने अतीत को देखकर सबकुछ सही नहीं पाता, लेकिन 75 वर्ष के आयु में मैं विवेक के साथ आगे देख सकता हूं।” अक्वर्थ, जॉर्जिया के हिक्स, जो MDRT के 31 वर्षों से सदस्य हैं, ने आगे बढ़ने के लिए निम्न सलाह दी:

  • अपने आप को अच्छी गलतियाँ करने की अनुमति दें और उनसे सीखें। जोखिम उठाएं। यदि आप गलतियाँ नहीं कर रहे, तो आप पर्याप्त जोखिम नहीं उठा रहे।
  • जब आप रात में लेटते हैं, तो ज़िम्मेदारी लें। अपनी करनी के लिए बहाने बनाना बंद करें। आगे की ओर देखें और मौजूद रहें।
  • समय का सदुपयोग करें। हर काम का समय निर्धारित करें, खासतौर पर आराम करने और खेलने का।
  • बड़े सवाल पूछें। “क्यों” पूछने से शुरुआत करें? यदि आप “कैसे” पूछकर शुरुआत करेंगे, तो हो सकता है कि आप पूरी तरह थक जाएं। क्यों से शुरुआत करें और फिर कैसे पूछें। क्यों ये बताता है कि वो कितना ज़रूरी है।
Two heads are better than one

दो लोग एक से बेहतर हैं

कैथलीन आर. बेंजामिन, CFP, CPA ने कहा, टीम दृष्टिकोण लेना अपनी प्रैक्टिस को एक व्यवसाय की तरह चलाने का तरीका है। उनकी फर्म प्रत्येक क्लाइंट बैठक में दो सलाहकारों को शामिल करके शुरुआत करती है। “यह क्लाइंट संतुष्टि में सुधार लाता है, और संबंध केवल एक सलाहकार से नहीं बल्कि टीम से हो सकते हैं।”

मैरीलैंड के टिमोनियम के 14 वर्षों से MDRT सदस्य बेंजामिन भी टीम और प्रबंधन के बीच संबंध पर ध्यान केंद्रित करते हैं। टीम के सदस्य कंपनी के उन अन्य क्षेत्रों को जान पाते हैं, जिसमें उनकी रुचि है, और उन्होंने एक कर्मचारी काउंसिल स्थापित की है।

फर्म पूरे समूह से इनपुट प्राप्त करने के लिए हर तिमाही में मज़ेदार टीम बैठक और समूह सत्र आयोजित करती है। साल के अंत में फर्म से बाहर एक समिट आयोजित की जाती है, जहां सभी कर्मचारियों के साथ कंपनी का पूरा डेटा साझा किया जाता है।

कंपनी टीम के सदस्यों को पेशेवर संगठनों में भाग लेने में सहायता करती है, और उन्हें एक चैरेटी चुनकर उसमें शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

5 lessons I learned from Top of the Table meetings

5 सबक जो मैंने टॉप ऑफ द टेबल बैठक से सीखे हैं

  1. लक्ष्य। हमें पता होना चाहिए कि हम अभी कहां हैं और हमारे भविष्य का विजन क्या है। देखें कि अगले 25 सालों के लिए हमारी विकास संबंधी योजनाएं क्या हैं और फिर उन्हें पांच साल, एक साल में विभाजित करें। बड़े, डरावने लक्ष्य निर्धारित करें।
  2. टीम। सबसे अच्छी चीज़ों में निवेश करें। हमें अपने साथ एक चैंपियनशिप टीम चाहिए।
  3. ब्रांडिंग और मार्केटिंग। ब्रांड बनाएं और उसे अपना सबसे अच्छा राज न बनने दें। सुनिश्चित करें कि जो भी आप करते हैं वो उन अपेक्षाओं को पूरा करे, जिसके लिएआपका ब्रांड है।
  4. स्वास्थ्य। हमें स्वस्थ रहने के बारे में योजना बनानी और अपनी देखभाल करनी है। स्वस्थ खाएं, आराम करें और भरपूर मात्रा में पानी पीयें।
  5. कुशाग्र रहें। पेड़ काटने के पहले अपनी धार तेज़ करने का समय निकालें। इसका मतलब अपनी ऊर्जा फिर से भरने के लिए समय निकालना है।

— कार्ल हार्टी ओसवेस्ट्री, इंग्लैंड के 18 वर्षों से MDRT सदस्य

 

{{GetTotalComments()}} Comments

Please Login or Become A Member to add comments